आँख मारे होली में भउजी आँख मारे holi song lyrics

BHAUJI AANKH MARE HOLI ME

आंख मारे …..आँख , आँख, आँख, आँख आँख मारे

आँख मारे देवर साला आँख मारे

आँख मारे होली में साला आँख मारे

रंगवा मिलावे ……हिलावे

हमके सतावे

आचरा पकड़ के फुचुर फुचुर रंग ढारे

ई बडूवे कुवारे

देवर साला आँख मारे

आँख मारे रे भउजी आंख मारे

आँख मारे होली भउजी आंख मारे

हमके भिजावे ……पोलावे

कनखी दबावे

भर फागुन में घरवा के बीचे दुवारे

गारी से हमें तारे

कि भउजी आंख मारे

आँख मारे कि भउजी आंख मारे

आँख मारे

होली भउजी आंख मारे

आंख मारे …..आँख , आँख, आँख, आँख आँख मारे

होली है……….!

[म्यूजिक]

फागुन में बिगाड़ लेले बाटे आपन चाल

रहे नहीं छुवे आके गोर गोर गाल

गोर गोर गाल

जब जब धरी त छनिकिये के भागे

भईया से कहस ना डर इहे लागे

बतिया बनावे …….चिढावे

लगे बोलावे

तासला में जाके धके दबावे रंग फारे

ना रहन सुधारे

देवर साला आँख मारे

आँख मारे

देवर साला आँख मारे

आँख मारे

होली भउजी आंख मारे

आंख मारे …..आँख , आँख, आँख, आँख आँख मारे

होली है …………!

अओह छोड़ा ना…..काहे हो

देहिया प फेक देता खोरी मेके पाकी

कवनो आलंग साला छोड़ा ता ना बाकि

छोड़ा ता ना बाकि

नाया नाया चेचिस के आईल बा मशीन

इनका से सुपर लागे ना तोर बहिन

ओकर बा शादी

मुवा दी धके हुमचा दी

भउजी हो भउजी लगबा तू हमके पुकारे

लुकाए पिछुवारे

देवर साला आँख मारे

आँख मारे

होली में साला आँख मारे

आँख मारे

होली में भउजी आँख मारे

[म्यूजिक]

आंख मारे …..आँख , आँख, आँख, आँख आँख मारे

कह देब आइहे जब पिया उमादित

होली के सीजन में लिखा तारे गीत

ए भउजी तानी बचाइए के

होई जे ख़राब ता हम किन देब ड्रेस

लालसा पूरा डा कहे प्रेमी आवधेस

उमिर ता देखा…..ए देवरू

पासा ना ठेका

अनुराग मुकेश ता भंग के मस्ती में बारे

बोलावा तारे

देवर साला आँख मारे

आँख मारे

होली में साला आँख मारे

आँख मारे

होली में भउजी आँख मारे ……..!

Rohit Kumar

My self Rohit Kumar and i am the owner of this site. At present i am only the Blogger of this website but my planning is to make a group of some student like me that helps me in this field. Now come to the point I am student of Electronics engineering and in present i am in my last semester. My moto behind to create this website is to provide information about engineering in logical way.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *